प्राचार्य की कलम से

Dr.

नया सत्र नई उमंग और नई तरंग के साथ आप सभी का हम स्वागत करते हैं।

आप सब भविष्य के सपने और योजनायें लेकर इस महाविद्यालय में आए हैं। आपके सपनों को सच्चाई में बदलने और योजनाओं को मूर्त रूप देने में हम सब अपना पूरा मार्गदर्शन और सहयोग प्रदान करेंगें ये हमारी आप से वचनबद्धता है। हमारे पास जो भी संसाधन और सुविधायें हैं, हम उनमें और आगे बढ़ने का प्रयास निरन्तर कर रहें हैं। साथ - ही - आप सभी के रचनात्मक सुझाव भी हमारे लिए अमूल्य है। जिससे हम सही दिशा में प्रगति का मार्ग निर्धारित कर सकें। हमारा आप सभी से अनुरोध है कि मॉ महामाया की नगरी और प्रकृति की गोद में स्थित इस महाविद्यालय में आप अपने सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ अध्ययन करें तो निश्चित ही सफलता के नित नए कीर्तिमान बनाकर आप अपना भविष्य उज्जवल कर सकेंगें।

महाविद्यालय में उपलब्ध अधोसंरचनाएं, अनुभवी एवं प्रशिक्षित प्राध्यापकों द्वारा अध्यापन कार्य, प्रायोगिक कार्य हेतु सर्व सुविधा संपन्न प्रयोगशालायें, इंटरनेट के उपयोग हेतु एन.आर.सी.,स्ट्रक्चर्ड लेन, वाई-फाई परिसर पंचमुखी विकास, ई-लायब्रेरी, रोजगारोन्मुखी व्यवसायिक पाठ्यक्रम, स्टेडियम, हरा-भरा परिसर आपके व्यक्तित्व विकास में सहायक होगा।

अंत में समस्त छात्र/छात्राएं उत्कृष्ट अनुशासन में रहते हुए सर्वांगीण विकास के पथ पर अग्रसर हो यही मेरी शुभकामना है ....।

‘यहां न कोई आम है ना खास है। सर्वत्र उल्लास, समरसता, समभाव है। आसमां को छू लें, बस यही एक चाव है। आगे बढ़ने का अवसर सबके लिए समान है। क्यों गिने जमीं के पत्थरों को, जब हमारा लक्ष्य आसमान है।

डॉ.राजीव शंकर खेर

प्राचार्य